होम Corona कोनसे वाहनों व प्रतिष्ठानों को है लॉकडाउन के दौरान छूट और...

कोनसे वाहनों व प्रतिष्ठानों को है लॉकडाउन के दौरान छूट और किनपर है पाबंदी, जानिये Bharat Manch पर

130

नरेश स्‍वामी @ भारत मंच

पुलिस कर्मियों को बताई पूर्ण जानकारी,
आमजन भी करेें पुलिस का सहयोग,
अपने घरों में रहे सुरक्षित रहें,

हनुमानगढ़ । कोरोना संक्रमण KOVID-19 की रोकथाम के लिये भारत सरकार, राज्यसरकार व स्थानीय प्रशासन कितना अलर्ट है इस बारें में आप अंदाजा लगा सकते है कि जिला स्तर के अधिकारी पल पल की स्थिति की मॉनिटरिंंग करने में लगे हुए है।

आगमी 14 अप्रैल तक केंद्र सरकार द्वारा जारी किये गये लॉक डाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं वाली दुकानें, संस्थाने व वाहनों को लॉकडाउन के तहत छूट दी गई है। जिनकी सुची जिला पुलिस अधीक्षक राशी डोगरा ने बुधवार को एक आदेश जारी कर इसकी जानकारी दी है। एवं संबधित पुलिस स्टाफ की इस बारें में जानकारी दी है।

श्रीमती राशि डोगरा ने बताया कि आवश्यक सेवाएं/संस्थानों को लॉकडाउन के दौरान खुले रहने एवं इनमें कार्यरत कर्मचारियों व अधिकारियों को अपने निजि वाहन( Personal Vhicle) से कार्यालय में आवागमन तथा आवश्यक सेवाओं/संस्थानों के माल परिवहन हेतु वाणिज्यिक वाहनों को छूट प्रदान की गई है।

जिनकी सुची इस प्रकार है।

  • चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग,
  • गृह, वित्त कार्मिक विभाग एवं जिला प्रशासन,
  • खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग,
  • आपदा प्रबंधन एवं सहायता,
  • सुचना एवं जनसंपर्क विभाग,
  • पुलिस, गृह रक्षा, जेल एवं एफएसएल विभाग
  • विद्युत निगम,
  • स्थानीय नगरीय निकाय, स्वायत्त शासन, पंचायती राज,
  • पशु चिकित्सालय, आर्युवेद सहति समस्त चिकित्सा सेवाएं
  • क्षेत्रिय एवं जिला परिवहन कार्यालय,
  • मंडी – अनाज मंडी, फल एवं सब्जी
  • कर / राजस्व संबधी (सीमा शुल्क, जीएसटी आदि)
  • भारतीय खाद्य निगम, पोस्ट ऑफिस , रेल्वे, मीडीया,
  • किरयाना एवं जनरल प्रोविजन स्टोर, खाद्य सामग्री, केमिस्ट
  • डेयरी एवं दूध वितरण केंद्र,
  • बैंक एवं एटीएम
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, श्रम विभाग,
  • प्रेस एवं मीडिया के कार्यालय, एवं प्रतिष्ठान,
  • रेस्टोरेंट एवं भोजनालय – केवल पैक करवाकर ले जाने की सुविधा हेतु,
  • ऊर्जा, पैट्रोल पंप, एलपीजी, बोटलिंग प्लांट,
  • दूरसंचार एवं इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनियां, कैबल ऑपरेटर,
  • खाद्य प्रसंस्करण ईकाइयां एवं आटा चक्की,
  • होम डीलीवरी (खाद्य एवं कुरियर सेवाओं में उपयोग लिये जाने वाले वाहन)
  • जिन रसोई, गुरूद्वारा, मंदिर आदि जगह जहां जरूरत एवं गरीब व्यक्तिओं के लिये लंगर(भोजन) व्यवस्था की गई है। वे खुले रहेंगे, अन्य सभी बंद रहेंगे जहां भीड़ उमडऩे की संभावना है।
  • पश्ुाओं / मुर्गीपालन आदि के लिये चारा बनाने वाली ईकाईयां, भोजन संबधित इकाईयां, दवाईयां, एवं चिकित्सा उपकरणों, अन्य आवश्यक वस्तुओं लिये बैग, पैकेजिंग सामग्री एवं बक्शे बनाने वाली इकाईयांं,
  • एफसीआई/आरएसडब्ल्युसी के गोदामों से खाद्य सुरक्षा योजना में गेंहु के कार्य में कार्यरत कार्मिकों एवं उठाव में प्रयुक्त होने वाले वाहन,
  • शिक्षा विभाग के कर्मचारी, जनप्रतिनिधि एवं अन्य कर्मचारी जो सर्वे कार्यों, अन्य कोरोना संबधी कार्य में लगे हुए है।
  • इस प्रकार उपरोक्त वाहनों को आवागमन में छूट प्रदान की गई है।

इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान किसी आपातकालीन परिस्थिति में कोई गर्भवती महिला, गंभीर रूप ये बीमार व्यक्ति, वृद्धजन या अन्य कोई व्यक्ति ऐसी प्रस्थिति के कारण सडक पर हो जो वास्तव में अपरिहार्य हो, ऐसी स्थिति में पुलिस कर्मी उनका परमिट देखकर तथा परिस्थिति के अनुसार स्वविवेकानुसार उन्हें केवल उनके गंत्वय स्थान तक पहुंचने की सुविधा प्रदान करेंगे।

समस्त निजि वाहन का परिवहन प्रतिबंधित है, परंतु अति आवश्यक मामलों में सक्षम अधिकारी द्वारा जारी परमिटशुदा वाहनों को परमिट देखकर उसमें उल्लेखित नियम व शर्तों के अधीन आने व जाने देवें।

इसके अलाव सभी निजि एवं सार्वजनिक वाहन प्रतिबंधित है। इनको राज्य या जिले की सीमा के अंदर एवं बाहर निकलने या प्रवेश की अनुमती नहीं है।

हनुमानगढ जिले में निवासरत व्यक्ति जो अपने निजि वाहन से दूसरे राज्य या जिले से आ रहे है उन्हें नाकाबंदी स्थल पर रोककर चिकित्सकीय जांच एवं रिकार्ड संधारण के बाद ही प्रवेश मिल सकेेगा।

ये जानकारी आपको कैसी लगी। अगर आपको बेहतरीन और महत्वपूर्ण जानकारी लगी तो इसे सोशल मीडीया पर शेयर करना ना भुले ताकि महत्वपूर्ण जानकारी सभी तक पहुंच सके।