होम Governess पल्लू में ई-मित्र संचालकों ने सौंपा ज्ञापन, वोटर लिस्ट सेल्फ अटेस्टेड मान्य...

पल्लू में ई-मित्र संचालकों ने सौंपा ज्ञापन, वोटर लिस्ट सेल्फ अटेस्टेड मान्य करने की मांग

356
पल्लू में उपतहसील में ज्ञापन देते ई-मित्र संचालक।

पल्लू. यहां के स्थानीय ई-मित्र सेवा संचालकों ने शुक्रवार को जिला कलक्टर के नाम नायब तहसीलदार के मार्फत ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि रावतसर तहसीलदार द्वारा एक आदेश निकालकर जाति-मूल में वोटर लिस्ट को तहसीलदार से अटेस्टेड करवाना अनिवार्य कर दिया है।

इस कारण तहसील मुख्यालय से दूर ग्रामीणों को इन सेवाओं का लाभ ई-मित्र से देना दुभर हो गया है। क्योंकि आवेदक को खुद को रावतसर तहसील मुख्यालय में चक्कर लगाने पड़ रहा है।

एक और सरकार ने सेल्फ अटेस्टेड दस्तावेज स्वीकार करने का नियम निकाल रखा है वहीं रावतसर तहसीलदार द्वारा निकाल गया फैसला जनविरोधी है। ऐसे में इस जनविरोधी फैसले को वापस लेने की मांग ई मित्र संचालकों ने की।

इमित्र संचालक केशव पंचारिया ने बताया कि सरकार द्वारा ई-मित्र द्वारा घर बैठे सुविधाएं देने के लिये बनाई गई है जबकि ऐसे विरोधी नियमों के कारण आमजन को तहसील कार्यालय में चक्कर काटने के लिये मजबूर होना पड़ेगा। ऐसे में ईमित्र केंद्रो का उपयोग आम आदमी को राहत नहीं मिल पायेगी।

इस दौरान केशव पंचारिया, मोहर सिंह, रामजीलाल कड़वासरा, रमेश नोखवाल, जगदीश एम सहू, बदरी सुडा, भंवरलाल गेदर, कालुराम बिजारिणयां, मंहेद्र ढाका, भागीरथ गोदारा, जगदीश ढुकिया, मामराज गिरी, सुरेंद्र सुथार सहित अन्य मौजूद थे।