चुरू / कांग्रेस जिलाध्‍यक्ष को लेकर क्‍यों हो उठे विरोध के सुर, जानिये पुरी कहानी ।

53

चुरू जिले की सुजानगढ़ पंचायत समिति में सरपंच फोरम के अध्यक्ष को लेकर उपजा विवाद कम होता नहीं दिखाई दे रहा है। युथ कांग्रेस के प्रदेश महासचिव और चुरू कांग्रेस के जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी के आपस में आरोप प्रत्यारोप के बाद चुरू जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच घमासान मचा हुआ है। चुरू जिले की सरदारशहर तहसील में युथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चुरू जिलाध्यक्ष का पुतला फूंक दिया और उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई। वहीं अन्य तहसीलों में भी विरोध प्रदर्शन किये गये।

देखे ि‍विडियाे बुलेटीन भारत मंच के साथ

युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता विशाल जाखड़ ने बताया कि जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी जिलाध्यक्ष जैसे पद के लायक ही नहीं है। ये पार्टी की नींव को चुरू में कमजोर करने का काम कर रहे है। भंवरलाल पुजारी अपने पद की धोंस दिखाकर जमीनी स्तर से जुड़े हुए कार्यकर्ताओं का मनोबल गिराने में लगे हुए है। जो चुरू जिले के कांग्रेस कार्यकर्ता किसी भी सुरत में सहन नहीं करेंगे। वहीं युथ कांग्रेस के पूर्व महासचिव बालचंद रेवाड़ ने बताया कि वर्तमान में कोरोना महामारी के नियमों का पालन करते हुए पुजारी का पुतला दहन करके सांकेतिक प्रदर्शन किया गया है। अगर लॉकडाउन के बाद किसी जिम्मेंदार व्यक्ति को जिला ध्यक्ष की कमान नहीं दी गई तो कांग्रेस कार्यकर्ता विद्रोह कर देंगे। इस अवसर पर संजय सारण, नितिश बैनीवाल, विद्याधर, जयप्रकाश, राकेश कुमार, प्रवीण ढाका, राजू पोटलिया, राकेश गोदारा सहित अन्य काफी कार्यकर्ता मोजूद रहे।

चूरू कोंग्रेस जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी के विरोध में तारानगर के युवाओ ने जाट महासभा के तहसील अध्यक्ष राजू जाट के नेतृत्व में पीसीसी अध्यक्ष व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के नाम पीसीसी सदस्य पुष्करदत इन्दोरिया को ज्ञापन दिया। युथ कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन में लिखा है कि चूरू जिले के कोंग्रेस अध्यक्ष का आचरण एवं व्यवहार पार्टी एवं कार्यकर्ताओं के लिए नुकसानदायक है । पुजारी निरन्तर पार्टी के नुकसान एवं कार्यकताओं को पार्टी से दूर करने का कार्य करते रहे है। इस समय जो प्रदेश युवा कॉंग्रेस में निर्वाचित नवीन शीलू के साथ किया है इससे पूरे जिले के युवा व कार्यकर्ताओं को आहत करने वाला है। सभी युवा कार्यकर्ता चाहते है कि यदि पुजारी को जिलाध्यक्ष पद से नहीं हटाया गया तो भविष्य में पार्टी का बिखराव निश्चित है और जिले के हजारों कार्यकर्ता पार्टी की सदस्यता त्याग करेंगें। युवाओं ने पुजारी को जिलाध्यक्ष पद से हटाकर किसी अन्य अच्छे व्यक्ति को जिले की कमान सौंपने की मांग की है। ताकि पार्टी का नुकसान होने से बच सके। इस मौके पर युथ कांग्रेस तहसील उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, विनोद पिलानिया, सुमित कुमार, सुर्य प्रकाश, मोहित सहित कई युवा मौजूद थे।

ये है क्या है पुरा मामला

जानकारी के अनुसार सुजानगढ़ पंचायत समिति के सरपंच युनियन के चुनावों के लेकर ये घमासान मचा हुआ है। जिसमें सुजानगढ़ पंचायत समिति के खुडी ग्राम पंचायत के सरपंच व युथ कांग्रेस के प्रदेश महासचिव अपने समर्थक सरपंचों से मिलकर उनकी सहमति से सरपंच फोरम के अध्यक्ष चुने जाने का समाचार मिलने पर ये आरोप प्रत्यारोप का दौर चल पड़ा। जो लगातार जारी है। कांग्रेस के चुरू जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी पर आरोप लगाते हुए खुडी सरपंच ने बताया कि ये आदमी उन्हें धमकी दे रहा है कि हमारे बिना तुम कुछ नहीं कर सकते । और तुम्हारें माता पिता सरकारी शिक्षक है ऐसे में उनका तबादला कहीं दूर करवा दिया जायेगा। ऐसे में खुडी सरपंच के इस बयान के बाद सोशल मिडिया में जंग छिड़ी हुई है। आखिरकार सरपंचों ने ये फैसला लिया है कि वे सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल के लौटने के बाद ही सरपंच युनियन के चुनाव करेंगे।

वहीं दूसरी और भंवरला पुजारी ने इन आरोपों को खारीज करते हुए कहा कि उनके खिलाफ हवा बनाई जा रही है जबकि सरपंच युनियन के चुनावों उनकी किसी प्रकार की दखल अंदाजी नहीं है।


सुजानगढ़ पंचायत समिति के खुड्डी ग्राम पंचायत के सरपंच नवीन शीलू वर्तमान प्रदेश महासचिव यूथ कांग्रेस राजस्थान के साथ चूरू जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री भंवरलाल पुजारी जो दबाव की राजनीति कर रहे हैं वह यूथ कांग्रेस कतई बर्दाश्त नहीं करेगी अगर भंवरलाल पुजारी जिलाध्यक्ष को तुरंत प्रभाव से पद से हटाया नहीं गया तो तारानगर यूथ कांग्रेस महासचिव अपना इस्तीफा देने के लिए तैयार है 

सरोज संदीप रूलानिया, तारानगर तहसील के यूथ कांग्रेस महासचिव

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें