लाॅकडाउन / इस बार शुभ मुहूर्त ना विहाह की शहनाई बजेगी, ना रमजान में एकत्रित होकर कर सकेंगे नवाज अदा।

56

अक्षय तृतीया पर बिना पूर्व स्वीकृति के नहीं हो सकेगा संयुक्त विवाह समारोह का आयोजन, रमजान में नमाज घर पर ही अदा करने के निर्देश

जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने अक्षय तृतीया और रमजान में लॉकडाउन की पालना को लेकर ली बैठक

हनुमानगढ़, 21 अप्रैल। कोरोना महामारी के दौर में आगामी दिवसों में मनाए जाने वाले त्योंहारों अक्षय तृतीया और रमजान के दौरान सांप्रदायिक सौहार्द एवं सामाजिक समरसता बनाए रखने और लॉकडाउन की पालना करने के उद्देश्य से जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने हिंदू और मुस्लिम समाज के मौजिज लोगों की बैठक ली। बैठक में जिला कलक्टर ने अनुरोध किया कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए आगामी 26 अप्रैल को अक्षय तृतीया पर यथासंभव आयोजनों को स्थगित रखा जाए। बिना पूर्व स्वीकृति के संयुक्त विवाह समारोह आदि का आयोजन नहीं किया जायेगा। बाल विवाह आयोजित करने और करवाने पर सभी संबंधित व्यक्तियों के विरूद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की जायेगी। यदि विवाह करना हो तो लॉकडाउन की शर्तो की पालना की जाए।
जिला कलक्टर ने निर्देशित किया कि रमजान माह में रोजेदार अपना दैनिक रोजा सहरी (शुरू करने) एवं रोजा इफ्तार (समाप्ति करने) के दौरान नमाज इत्यादि अपने घर पर ही अदा करें। बैठक में उपस्थित सभी मौलाना को भी वर्तमान परिस्थतियों के मध्यनजर दैनिक नमाज के समय केवल अजान ही मस्जिद से किया जाना सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया गया। नमाज अदा के लिए कोई भी व्यक्ति मस्जिद में न आये। इसको लेकर सभी मौलाना को कहा कि वे लोगों से समझाइश और अपील करे व मस्जिदों से भी ऐलान करवाए कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए कुछ समय के लिए एहतियात बरते हुए रमजान माह में तराबीह की नमाज अपने-अपने घर से ही अदा करें।
जिला कलक्टर ने बैठक में उपस्थित समाज के प्रतिनिधियों से यह भी आग्रह किया गया कि वे अपने-अपने क्षेत्र में निवासरत व्यक्तियों को मास्क लगाने, सेनेटाईजर का प्रयोग,बार-बार साबुन से हाथ धोने एवं सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित करने हेतु समझाइश करें, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। साथ ही यह भी आग्रह किया गया कि यदि आपके क्षेत्र में कोई वंचित व्यक्ति या परिवार निवास कर रहा है, जो भोजन, दवा इत्यादि अतिआवश्यक श्रेणी की किसी सुविधा से वंचित है, तो उसे अविलम्ब सहायता उपलब्ध करवाई जा सके। इस हेतु जिला कन्ट्रोल रूम या उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में स्थापित कन्ट्रोल रूम में इसकी सूचना दें ताकि संबंधित को अविलम्ब सहायता उपलब्ध करवाई जा सके।
बैठक में उपस्थित समस्त हिन्दू व मुस्लिम समाज के प्रतिनिधियों ने जिला कलक्टर द्वारा दिये गये निर्देशों और सुझावों की पालना अपने-अपने क्षेत्र एवं समाज में करवाने का आशवासन दिया । साथ ही यह भी कहा कि वे वर्तमान परिस्थितियों में प्रशासन के सहयोग हेतु सदैव तत्पर है एवं साम्प्रदायिक सौहार्द कायम रखने के लिए प्रशासन को यह अवगत कराया कि जिला हनुमानगढ़ साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये रखने में अव्वल रहा है। भविष्य में भी इस परम्परा का निर्वहन किया जायेगा।
बैठक में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन, एडीएम श्री अशोक असीजा, एडीश्नल एसपी जस्साराम बोस, एसडीएम श्री कपिल यादव, नगर परिषद सभापति श्री गणेशराज बंसल,श्री बाबूलाल जुनेेजा, श्री विकास गुप्ता, श्री आशीष पारीक, श्री इशाक खान, श्री नूरनबी भाटी, मौलवी चिराग आलम रिजवी, मौलाना गुलाम फरीद कादरी, सैयद राशिद अनवर शमसी, डॉ सुल्तान मलिक, न्याय शाखा प्रभारी श्री सुरेन्द्र डोगीवाल उपस्थित थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें