संगरिया / कोरोना वायरस की सोशल मीडीया पर भ्रामक खबर फैलाने वाले को पुलिस संगरिया पुलिस ने किया गिरफ्तार

193

पेट का ईलाज कराने अस्‍पताल पुहंची महिला को कोरोना पिडित बताकर सोशल मीडिया पर किया था वायरल

समाज में दशहत फॅलाने वाली भ्रामक खबरों के खिलाफ पुलिस हुई शख्‍त

संगरिया । सोशल मिडिया पर कोरोना वायरस का भ्रामक प्रचार करने वालों पर पुलिस सख्ती से पेश आ रही है। पुलिस ने इसी कड़ी में संगरिया तहसील क्षेत्र के नुकेरां गांव से एक व्यक्ति पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया है। संगरिया पुलिस के अनुसार सैफुला पुत्र यासीन मोहम्मद निवासी गुडिय़ा ने पुलिस थाना में आकर रिपोर्ट दीद कि उसकी चाची को संगरिया अस्तपाल में पेट दर्द की शिकायत होने पर भर्ती करवाया था। उसी दौरान वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने उसकी चाची को कोरोना वायरस बताकर वाटसएप व अन्य सोशल मिडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल कर दिया। जिस कारण उनके घरवालें व ग्रामीण पेरशान हो गये। उनकों तरह – तरह से प्रताडऩा मिलने लगी ।

इस पर पुलिस ने अज्ञात पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो सामने आया कि शेखर बिस्सू पुत्र आत्माराम जाति जाट निवासी नुकेरां तहसील संगरिया ने उक्त पोस्ट वाटसएप के ग्रुपों में शेयर की थी। जिससे समाज में भय का माहौल बना। इस पर उसे गिरफ्तार कर पुलिस पूछताछ करने में जुटी है। पुलिस टीम में संगरिया थानाधिकारी इंद्रकुमार, एएसआई हरबंसलाल और कांस्टेबल अविनाश मौजूद रहे।

पुलिस ने चेताया है कि किसी भी प्रकार की भ्रामक खबर जो समाज में दशहत का माहौल पैदा करें पोस्ट करने सख्त कार्रवाई की जायेगी। ग्रुप के एडमिन भी कार्रवाई में शामिल किये जा सकते है । ऐसे में सभी ग्रुप एडमिन सभी सदस्यों को एसी पोस्ट नहीं करने के लिये प्रतिबंधित करें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें